The love of youth ascending.(चढ़ती जवानी का प्यार।)

Hindi to English translation by Google.

सुबह उठकर जल्दी जल्दी तैयार होकर अपनी साइकिल लेकर स्कूल चले जाना और स्कूल पहुंचने के बाद क्लास के दरवाजे के पास खड़े होकर किसी का इंतजार करना, दूर से ही उसको आते देख कर मन को सुकून आ जाता था। और पूरा दिन उसी की देखते रहना छुट्टी के बाद घर जाना और फिर सुबह होने का इंतजार करना बस यही अपनी दुनिया थी।

गुलाबी रंग की स्कूल की वर्दी पहनकर और साथ में सफेद चुनरी को सिर पर लेकर जब वह स्कूल आती तो ऐसे लगती थी जैसे सचमुच ही गुलाब खिला हो, मस्त हिरनी जैसी चाल चलते हुए उसका स्कूल आना किसी को भी मदहोश कर सकता था। स्कूल में कोई भी ऐसा लड़का नहीं था जो उसका दीवाना ना हो। मेरे जैसे और भी कई लड़के स्कूल पढ़ने के लिए नहीं बल्कि उसको देखने के लिए ही आते थे, मगर वह चुपचाप सिर झुका के अपने क्लास में चली जाती कभी किसी की तरफ नहीं देखती थी।

लड़कों में तो पूरा दिन उसी की बातें होती रहती थी हर कोई चाहता था कि वह मुझे मिल जाए। हर कोई उस को इंप्रेस करने के चक्कर में था,मगर किसी में इतनी हिम्मत नहीं होती थी कि उसके सामने अपने दिल की बात उसको बोल सके। आज के वक्त में तो अपनी बात किसी को बोलना बहुत आसान हो गया है हर किसी के पास फोन है बस एक मैसेज करो और अपना काम हो गया मगर उस टाइम ऐसा नहीं था और लोग प्यार को बहुत ही बुरा मानते थे लड़के का लड़की को मिलना बिल्कुल ही मना था और उस टाइम स्कूल में मास्टर का भी बहुत डर होता था।

समय अपनी चाल में चलता रहा वह वक्त भी आ गया जब स्कूल में पढ़ाई पूरी हो चुकी थी। मगर दिल की बात अभी भी अधूरी थी। शायद जे बात कभी ना पूरी होने वाली बात थी उसकी यादों को दिल में लिए हुए स्कूल को अलविदा कह दिया। बरसों बीत जाने के बाद भी ऐसा लगता है जैसे कल की ही बात हो। आज भी उसका हंसता हुआ चेहरा आंखों के सामने घूमता है। समय के साथ जिंदगी में काफी परिवर्तन आ गए लेकिन उसको मैं अभी तक भूल नहीं पाया

English translation.

Getting up early in the morning, getting ready early, went to school with his bicycle and after reaching school, standing near the door of the class and waiting for someone, the mind was relieved to see him coming from far away. And the whole day was to look after him, go home after vacation and then wait for it to be morning, that was his world.

Wearing a pink school uniform and with a white chunari on her head, when she came to school, it seemed as if the roses were literally blossomed, walking in a cool deer like manner could make anyone come to school. There was no boy in school who was not crazy about him. Many other boys like me used to come not only to study but to see her, but she would go to her class silently bowing her head and never look at anyone.

Boys used to talk about it all day, everyone wanted me to meet him. Everyone was in a circle to impress him, but no one had the courage to speak his heart in front of him. In today’s time, it has become very easy to speak to someone, everyone has a phone, just do a message and its work is done, but it was not that time and people considered love very bad for the boy to meet the girl. It was absolutely forbidden and there was a lot of fear of the master(teacher) at that time school.

Time kept going in its pace, the time had also come when school was completed. But the matter of the heart was still incomplete. Perhaps the matter was never going to be fulfilled, saying goodbye to the school with his memories in mind. Even after the years have passed, it seems like it was only yesterday. Even today, his laughing face wanders before his eyes. There have been many changes in life over time but I have not forgotten it yet.

admin

I'm Malkit singh rataul.

Leave a Reply

%d bloggers like this: