इंसान या शैतान?

Hello friends.

हर इंसान के अंदर एक शैतान बैठा होता है, इस बात को हम सभी ने कभी ना कभी जरूर सुना होगा। इस बात को सुनने के बाद आपके दिमाग में एक सवाल जरूर उठता होगा किया कि अगर शैतान है तो हमें दिखाई क्यों नहीं देता। शैतान हम सबको दिखाई देता है मगर वह किसी ना किसी इंसान के रूप में दिखाई देता है। एक ऐसा ही शैतान कुछ दिन पहले केरला में देखने को मिला। और उस शैतान ने बेजुबान जानवरों को भी नहीं बख्शा।

myrataul.com

हुआ कूश ऐसा के जंगल से एक हथिनी पानी और खाने की तलाश में शहर आ गई। वहां किसी ने फलों में पटाखे रखकर हथिनी को खाने के लिए दे दिया, जैसे ही हथिनी ने उसे खाना शुरू किया तो वह पटाखे उसके मुंह के अंदर चलना शुरू हो गए। दर्द से कह आती हुई हथनी जंगल की तरफ भागना शुरू कर दिया रस्ते में बहुत से लोग मिले बहुत से घर भी आए लेकिन उसने किसी को कोई भी नुकसान नहीं पहुंचाया। वह भागती हुई सीधा जंगल में एक नदी में जाकर खड़ी हो गई।

अगले 3 दिन तक वह वह नदी में खड़ी रही और वहीं पर उसने अपने प्राण त्याग दिए। पोस्टमार्टम के बाद पता चला के अकेली हथनी नहीं मरी उसके गर्भ में पल रहा उसका बच्चा भी मर चुका था।

इंसान के रूप में मौजूद शैतान असल में तीन जान ले चुका था पहली जान उस हथनी की दूसरा उसके बच्चे की और तीसरा इंसानियत की और भरोसे की जो हथिनी ने उस इंसान पर किया था। 3 दिन तक हथनी पानी में खड़ी रही और उसने अपने आसपास किसी इंसान को नहीं आने दिया शायद वो समझ नहीं पा रही थी कि इंसान कौन है और शैतान कौन?

admin

I'm Malkit singh rataul.

Leave a Reply

%d bloggers like this: